प्रियंका गांधी वाड्रा की छत्तीसगढ़ यात्रा: क्या वह राज्य में कांग्रेस पार्टी की किस्मत को पुनर्जीवित कर सकती हैं?

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का रायपुर में पार्टी के पूर्ण अधिवेशन में गर्मजोशी से स्वागत किया गया। इस घटना ने पूरे छत्तीसगढ़ में पार्टी की महीने भर की ‘संघर्ष संदेश यात्रा’ की परिणति को चिह्नित किया। प्रियंका गांधी वाड्रा गुरुवार को रायपुर पहुंचीं, जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया, जिन्होंने उनके लिए रेड कार्पेट बिछाया।

अपनी यात्रा के दौरान, उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और राज्य में कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार द्वारा किए गए कार्यों की भी प्रशंसा की और राज्य के विकास की दिशा में काम करने का वादा किया।

कांग्रेस पूर्ण सत्र में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों सहित कई वरिष्ठ पार्टी नेताओं की उपस्थिति देखी गई। बैठक उत्तर प्रदेश और पंजाब सहित पांच राज्यों में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी की रणनीति पर चर्चा पर केंद्रित थी।

प्रियंका गांधी वाड्रा का छत्तीसगढ़ दौरा ऐसे समय में हो रहा है, जब कांग्रेस पार्टी को राज्य में कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ रहा है। पार्टी छत्तीसगढ़ में 18 से अधिक वर्षों से सत्ता से बाहर है, और इसे सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के रूप में एक दुर्जेय प्रतिद्वंद्वी का सामना करना पड़ रहा है। कांग्रेस को उम्मीद है कि प्रियंका गांधी वाड्रा की यात्रा और उनके प्रयासों से राज्य में चुनाव से पहले पार्टी की संभावनाओं को बढ़ावा मिलेगा। हिंग्लिश में परिवर्तित करें

Leave a Comment